Home » Muslim Yantra For Suffering Of Enemy शत्रु को कष्ट देने का मुस्लिम यन्त्र

Muslim Yantra For Suffering Of Enemy शत्रु को कष्ट देने का मुस्लिम यन्त्र

Muslim Yantra For Suffering Of Enemy

Keep studying this instrument over and over whilst writing your Yantra! Write 1500 Yantra on the leaves of mango and except the Yantra is full, no canine need to no longer notice! By this the Yantra will become proven! Is the mantra of the Yantra

अजवत, अत हयलं, वातत हयलं, जवा जतन हयलं

तात तयलं, हतत तयलं, वातत हयलं, जतत हयलं

हतत तयह, ततत हयलं, अजवत अलेकंवी, अवस्ता

अलेकंवी, या अल्लाह या वुद: फलाना मेरा

हासल होय !

Write the instrument with the gold via Mahavari ink, then be mohan! Write with the ink of Gorkhani by using the pen of jasmine, then be cursed! Written with the ink of turmeric in the shape of eh! If you write with Dhatura juice from the wings of the CrowWriting with the ink of cremation grounds via an iron pen, it is uprooted! Write a reproduction of the saffron ink via the pen of the rupa; Written by using a pen of iron, the enemy will be in trouble!

शत्रु को कष्ट देने का मुस्लिम यन्त्र Muslim Yantra For Suffering Of Enemy

यन्त्र लिखते समय इस यन्त्र को बार बार पढ़ते रहें! आम के पत्तो पर 1500 यन्त्र लिखें और जब तक यन्त्र पुरे ना हो जाएँ, किसी कुते पर दृष्टि नहीं पड़नी चाहिए! इसी से यह यन्त्र सिद्ध हो जाता है! यन्त्र का मंत्र है

अजवत, अत हयलं, वातत हयलं, जवा जतन हयलं

तात तयलं, हतत तयलं, वातत हयलं, जतत हयलं

हतत तयह, ततत हयलं, अजवत अलेकंवी, अवस्ता

अलेकंवी, या अल्लाह या वुद: फलाना मेरा

हासल होय !

यन्त्र को सोने की कलम द्वारा महावरी की स्याही से लिखें तो मोहन हो! चमेली की कलम द्वारा गोरोचन की स्याही से लिखें तो वशीकरण हो! हल्दी की स्याही से सेह की सूल से लिखें तो स्तंभन हो! कव्वे के पंख से धतूरे के रस से लिखे तो मृत्यु हो! लोहे की कलम द्वारा श्मशान के कोयलों की स्याही से लिखें तो उच्चाटन हो! रूपा की कलम द्वारा केसर की स्याही से लिखें तो देवदर्शन हो! भिलावे के रस से लोहे की कलम द्वारा लिखे तो शत्रु कष्ट में हो!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.